fbpx

Artikills

Poems

City of stars

My eyes gleam at the spark of bright stars, which twinkles sharp, through my quadrangle. Where I lie every night, when the lights are off and the world is still. My mind travels to the city of stars. Delighted as they flutter bright and white like the butterfly wings. Myriads of stars beating together in …

City of stars Read More »

रुकना नहीं।

नन्ही सी आंखो मे जो बड़े बड़े ये सपने हैं, तुझको ही पूरे करने हैं क्यूंकि ये तेरे अपने है, राही तू आगे बढ़ते जा बस बढ़ते जा तू बढ़ते जा, बस थकना नहीं, रुकना नहीं। जीवन एक चुनौती है तू आ इसको स्वीकार कर, ये बहुत बड़ा संघर्ष है आ खुलकर तू स्वीकार कर, …

रुकना नहीं। Read More »

Pegaam- a letter of incredible feelings

  नज़रें आंखों से उतर के दिल में बस जाती है…, तू कुछ नहीं केह के भी दिल में सवालों कि दुकान कर जाती है..!!!! यूं तो बातें सबसे करलेती हो मैसेज सीन करो ना करो स्टेटस का रिप्ले तो हर रोज कर लेती हो…..🤔 इंतज़ार कि राह में पुरी रात गुजार लेते हैं फिर …

Pegaam- a letter of incredible feelings Read More »

क्या याद करू तुम्हे

क्या याद करू तुम्हे तुम तो मेरे हर पल में हो.. तुम कहते हो कि हम याद नहीं करते याद तो उसे करेंगे ना जिसे भूल जाए मेरे यह सारे अल्फ़ाज़ तुम्हारे लिए है। यह सारे एहसास तुम्हारे लिए है मेरे चेहरे पर अाई छोटी सी मुस्कान तक तेरे लिए है बारिश की बूंदों में, …

क्या याद करू तुम्हे Read More »